दुनिया का सबसे बड़ा हिन्दू मंदिर का रहस्य, यह मंदिर भारत में क्यूं नहीं?, किसने किया मंदिर का निर्माण का कार्य

·


विश्व में सबसे ज्यादा हिन्दू भारत में ही रहते हैं और हम जानते है की सबसे ज्यादा हिन्दू मंदिर भारत में हैं हम आप को एक हैरान कर देने वाली बात यह भी बता दे की सबसे बड़ा हिन्दू मंदिर हिन्दुस्तान में नहीं बल्कि विदेश विदेश में हैं यह मंदिर कम्बोडिया देश के अंकोर के सिमरीप शहर में मीकांग नदी के किनारे बनाया गया है इसका नाम अंकोरवाट मंदिर है इसका पुराना नाम 'यशोधरपुर' था
विदेशों से देखने आते है लाखों लोग :-
इस मंदिर की लोकप्रियता इतनी ज्यादा है कि इसे विदेशों से देखने लाखों लोग आते हैं यह एतिहासिक मंदिर इस देश के लिए कितनी मायने है इसका पता इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसे कम्बोडिया के राष्ट्र ध्वज पर अंकित किया गया है अंकोरवाट मंदिर विदेशों में कम्बोडिया की पहचान है यह मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है लेकिन हम आप को ये भी बता दे की इसको पहले शिव मंदिर बनाया गया था
मेरु पर्वत का भी प्रतिक यह मंदिर है इसकी दीवारों पर भारत की झलक दिखती है दीवारों पर बहुत ही सुन्दर ढंग से अप्सराएं उभरी हुई है असुरों और देवताओं के बीच अमृत मन्थन का दृश्य भी इस मंदिर की दीवारों पर दिखाया गया है मंदिर यूनेस्को के विश्व धरोहर स्थलों में से एक है यहाँ का सूर्योदय और सूर्यास्त देखने पूरी दुनिया से लोग आते हैं
किसने किया मंदिर का निर्माण का कार्य :-
हम आप को यह भी बता दे कि इस अंकोरवाट मंदिर का निर्माण राजा सूर्यवर्मन द्वितीय ने 1112 से 1153 के बीच करवाया था इसकी रक्षा के लिए इसके चारो तरफ एक विशाल खाई बनवाई गई थी जिसकी चौड़ाई लगभग 700 फीट है दूर से देखने पर ये खाई किसी बहुत बड़ी झील के सामान दिखाई पड़ती है खाई पार करने के लिए मंदिर के पश्चिम में एक पुल बनाया गया था, मंदिर का कार्य सूर्यवर्मन द्वितीय ने प्रारम्भ किया था परन्तु इसका समापन धरणीन्द्रवर्मन के शासनकाल में हुआ था

Subscribe to this Blog via Email :
You Will Like This..