लौकी खाने के लाभ ही लाभ, क्या जानते हैं आप.!

·



गर्मी के दिनों में बीमारियों जल्दी होती हैं तो ऐसे में हेल्थ की खास ध्यान रखना पडता है। गर्मियों के दिनों में कुछ हल्का खाना ही स्वस्थ के लिए ठीक होता है और लौकी में तो औषधि के अनेक गुण समाएं होते हैं। इसके सेवन से मानसिक तनाव कम होता है, और यह आंखों की रोशनी भी बढाने के  अलावा रोग-प्रतिरोधक क्षमता भी बढाते हैं। साथ-साथ मानसिक तनाव कम होता है। सब्जियों में आप लौकी का सेवन कर सकते हैं। तो आइये जानते हैं लौकी के गुणों को...


रक्त विकार में आधा कप लौकी के रस में थोडी-सी मिश्री मिलाकर सुबह-शाम पीने से रक्त विकार दूर हो जाता है।
दस्ते होने पर लौकी के रायते का सेवन करें। इसके लिए लौकी को कद्दूकस करके थोडा पानी डालकर उबाल लें। दही को अच्छी तरह मथकर उसमें उबली हुई लौकी को निचोडकर मिला दें। फिर उसमें सेंधा नमक, भुना हुआ जीरी, कालीमिर्च का चूर्ण मिलाकर दिन में कम से कम 2-3 बार खाएं। दस्त की परेशानी से दूर हो जाएं।


पीलिया रोगी को लौकी के रस में थोडी-सी मिश्री मिलाकर दिन में कम से कम 3-4 बार पी रात को नींद न आने की शिकायत हो तो आप लौकी के रस में कुछ बूंदें तिल के तेल की मिलाएं। और फिर इससे सोने पहले सिर पर अच्छी तरह से मालिश करवा लें। आजमा कर देखें नींद अच्छी आने लगेगी।


लौकी के सेवन करने से गर्भाशय मजबूत होगा व गर्भस्त्राव का भी डर भी नहीं रहेगा।


जिन स्त्रियों का गर्भपात हो जाता है। उन्हें लौकी खानी चाहिए आप चाहे तो इसकी कभी सब्जी तो कभी इसका रस के रूप में अवश्य ले सकती है।


गठिया से परेशान रोगियों को लौकी 100 मिली, कम से कम 3 ग्राम सोंठ का चूर्ण मिलाकर पीने से गठिया की सूजन और दर्द से राहत मिलती है।
संदर्भ पढ़ें

Subscribe to this Blog via Email :
You Will Like This..