कैंसर के मरीजों के लिए वरदान है अलसी, जानिए कैसे,

·

ऐसा कहा जाता हैं कि अलसी में कई तरह की आयुर्वेदिक दवाईयां पायी जाती हैं। या यूं कहें कि ये खुद ही एक जबरदस्त आयुर्वेदिक दवा हैं तो कहना कतई गलत नहीं हेागा। अलसी सदियों से चली आ रही हैं। इसमें ओमेगा-3 एसिड पाया जाता जो कि हार्ट के लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक होता है। इसके कई फायदें होते हैं जो हमारे शरीर में कई प्रकार के रोगों से रक्षा करने में बहुत ही मददगार साबित हेाती हैं। ये बात एक नए रिसर्च में सामने आ चुकि हैं तथा उसमें साबित भी हो गयी थी।
अलसी के सेवन से ब्रेस्ट कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर और कोलोन कैंसर से भी बचाव करता है। इसका नियमित मात्रा में सेवन करने से ये कैंसर की समस्या को काफी हद तक समाप्त कर देता हैं। इसमें पाया जाने वाला लिगनन हार्मोन के प्रति संवेदनशील होता है। अलसी में पाया जाने वाला ओमेगा-3 जलन को कम करता है और हृदय गति को सामान्य रखने में मददगार है। यह ब्लड के व्हाइट सेल्स की ब्लड धमनियों की आंतरिक परत पर चिपका देता है।
मधुमेह को नियंत्रित रखता है। अलसी का सेवन मधुमेह के स्तर को नियंत्रित रखता है। अमेरिका में हुए एक शोध में यह सामने आया हैं कि जो लोग डायबिटीज के रोग से पीडित हैं उनमें अलसी में मौजूद लिगनन ब्लड शुगर लेवल निंयत्रण में रहता है। अलसी या कोई भी फ्लैक्सीड्स अधिक मात्रा में खाने में आपको नुकसान पहुंचा सकता है। इसी तरह अलसी में मौजूद लैक्सेटिव दस्त, सीने में जलन और बदहजमी जैसी पेट की समस्यायें भी बना सकते हैं। इसके लिए जरूरी है कि आप प्रतिदिन 30 ग्राम अलसी से ज्यादा सेवन न करें।
संदर्भ पढ़ें

Subscribe to this Blog via Email :
You Will Like This..