GST से पहले बैंक मांग रहे हैं ये डिटेल, 30 जून तक करें सबमिट,

·

नई दिल्‍ली। पूरे देश में 1 जुलाई से जीएसटी लागू हो रहा है। ऐसे में बैंक अपने ग्राहकों से जीएसटी रजिस्‍ट्रेशन नंबर सहित दूसरी डिटेल मुहैया कराने को कह रहे हैं जिससे बैंक के पास ग्राहक का बिजनेस रिकॉर्ड रहे। आपको बैंक को यह डिटेल 30 जून तक सबमिट करनी है।


किसको देनी होगी डिटेल
अगर आप के लिए जीएसटी कानून के तहत कारोबार करने के लिए जीएसटी रजिस्‍ट्रेशन नंबर लेना जरूरी है तो आप को बैंक को अपनी डिटेल मुहैया करानी होगी। जीएसटी के तहत सालाना 20 लाख रुपए से अधिक का कारोबार करने वालों के लिए जीएसटी के तहत रजिस्‍ट्रेशन कराना जरूरी है। जिसको जीएसटी के तहत रजिस्‍ट्रेशन नहीं कराना है उनको डिटेल देने की जरूरत नहीं है।


बैंक मांग रहे ये डिटेल

बैंक मांग रहे ये डिटेल
आपको बैंक को अपना बैंक अकाउंट नंबर, जीएसटी रजिस्‍ट्रेशन नंबर, अगर आपको कोई स्‍पेशल स्‍टेटस मिला है जैसे सेज के तहत जो छूट मिलती है तो आपको इसकी डिटेल सपोर्टिंग डाक्‍युमेंट देना है। इसके साथ आपको टैक्‍स अथॉरिटीज द्वारा जारी किए गए जीएसटी रजिस्‍ट्रेशन डाक्‍युमेंट की स्‍कैन की गई कॉपी देनी है। इसके अलावा आपको सर्विस प्रोवाइडर्स को पेमेंट करते समय काटे जाने वाले टीडीएस की डिटेल भी देनी होगी।

एक ही हो ईमेल एड्रेस

एक ही हो ईमेल एड्रेस
जीएसटी रजिस्‍ट्रेशन में आपका ईमेल एड्रेस वही होना चाहिए जो ईमेल एड्रेस बैंक के पास है। अगर इसमें अंतर है तो आप बैंक अकाउंट के लिए ईमेल एड्रेस अपडेट कराएं।

जीएसटी से आएगी पारदर्शिता

जीएसटी से आएगी पारदर्शिता
केपीएमजी इंडिया के पार्टनर एंड हेड, इनडायरेक्‍ट टैक्‍स सचिन मेनन का कहना है कि जीएसटी लागू होने से पारदर्शिता आएगी और ऐसे कारोबारी जो अब तक असंगठित क्षेत्र में थे संगठित क्षेत्र में आएंगे। इससे अर्थव्‍यवस्‍था का आकार 1 से 2 फीसदी तक बढ़ जाएगी।
READ SOURCE

Subscribe to this Blog via Email :
You Will Like This..